सैलरी पर इनकम टैक्स बचाने आसान तरीके 2024

Rate this post

दोस्तों, आप कई स्कीम्स में निवेश (Invest) करके अपनी सैलरी पर लगने वाले टैक्स को कम कर सकते हैं. इससे आपकी बचत भी ज्यादा बढ़ेगी और रिटायरमेंट (Retirement) के लिए फंड भी तैयार होगा. तो चलिए आपको मैं कुछ ऐसे ही तरीकों के बारे में बताता हूं.

अगर आप भी नौकरीपेशा व्यक्ति हैं, तो इस पोस्ट में आपके लिए कुछ खास है. जैसे ही आप हर महीने सैलरी आने पर सभी खुश होते हैं ठीक उसी तरह उस पर टैक्स चुकाकर शायद ही आप खुश होते होंगे.

इसका मतलब यह कभी भी नहीं है कि आपको टैक्स की चोरी करनी चाहिए. टैक्स चुकाना आपका एक कर्तव्य है. लेकिन आपको टैक्स बचत करने के बारे में भी पता होना चाहिए. जिससे आपके निवेश करने पर भी सैलरी पर टैक्स बहुत ही कम लगेगा. जिसकी वजह से आप की बचत बढ़ेगी और आपके पास रिटायरमेंट फंड भी तैयार होगा.

आपको इस बात की जानकारी हमेशा रखनी चाहिए कि कौन से प्लांट पर टैक्स में छूट मिलती है इससे टैक्स में बहुत सारी बचत कर सकते हो तो चलिए इसकी ज्यादा जानकारी के लिए आप इनकम टैक्स एक्ट, 1961 देख सकते हैं.

इस पोस्ट में मैं आपको टैक्स बचाने के कुछ आसान तरीकों के बारे में बताऊंगा

ईपीएफ (EPF)

सबसे पहले नंबर पर है ईपीएफ. यह इंडिया में सबसे लोकप्रिय टैक्स सेविंग स्कीम है. ईपीएफ में कर्मचारी के साथ-साथ कंपनी भी योगदान देती है. इसमें जमा किए हुए पैसे और ब्याज पर किसी तरह का कोई भी टैक्स नहीं लगता.

Also Read:  Best Apps to File Income Tax Return Online India

पीपीएफ (PPF)

पीपीएफ यानि पब्लिक प्रोविडेंट फंड में निवेश करके भी आप टैक्स में बचत की सकती है. इसमें रिटायरमेंट के समय पर गारंटीड रिटर्न मिलता है. और इसके अलावा इसमें जमा की हुई राशि, ब्याज और पैसा निकालने पर किसी तरह का टैक्स नहीं लगता है.

इक्विटी लिंक्ड सेविंग स्कीम (Equity Linked Saving Scheme)

उसके बाद इक्विटी लिंक्ड सेविंग स्कीम (ELSS) को नौकरीपेशा लोगों के लिए सेविंग और टैक्स बचत का एक काफी अच्छा जरिया माना जाता है. इस स्कीम में 80सी के तहत निवेश पर टैक्स में छूट मिलती है. लेकिन जब एक लाख से ज्यादा रिटर्न होता है तो इसमें 10 फीसदी के हिसाब से टैक्स लगता है.

टैक्स सेविंग एफडी (Tax Saving FD)

आप टैक्स सेविंग फिक्स्ड डिपॉजिट में निवेश करके भी टैक्स और बचत कर सकते हो. इसके साथ ही इससे भविष्य के लिए आप एक बड़ा फंड भी तैयार कर सकते हो. यह एक एफडी स्कीम की तरह ही होती है और इसमें 1.5 लाख रुपये तक के निवेश पर टैक्स में छूट मिलती है.

नेशनल पेंशन सिस्टम (National Pension System)

उसके बाद आता है नेशनल पेंशन सिस्टम या एनपीएस. अगर आप जल्द रिटायरमेंट लेना चाहते हैं तो आपको इसमें निवेश करना चाहिए. इसमें पीपीएफ और एफडी के मुकाबले में ज्यादा रिटर्न मिलता है. नेशनल पेंशन सिस्टम में आपको 1.5 लाख रुपये तक टैक्स छूट का क्लेम किया जा सकता है.

Leave a Comment